Mehnat ka sikka hamesha chalta hai hindi motivation story (inspirational kahani)

Mehnat ka sikka hamesha chalta hai hindi motivation story (inspirational kahani)
Share this Post

मेरी ट्रेन लेट थी, रात दो बजे के बाद आने वाली थी, छोटा सा स्टेशन है ज्यादा भीड़ नहीं रहती। वेटिंग रूम में थोड़ी झपकी आ गई। आँख खुली तबतक मेरा वॉलेट और मोबाइल चोरी हो चुका था।

Mehnat ka sikka hamesha chalta hai hindi motivation story (inspirational kahani)

अनजान शहर अनजाने लोग, अब ना टिकिट था ना पैसे और ना ही मोबाइल। छब्बीस घंटे की दूरी तय करनी थी, घर पहुंचने के लिए। एक दो लोगों से मदद लेनी चाही पर जमाना ऐसा है कि लोग संदेह की दृष्टि से देखने लगे हैं और इसमें लोगों की कोई गलती नहीं। कोई अपने मोबाइल से बातें क्यूँ कराएगा? और लोग तो आजकल कुछ भी झुठ बोलकर पैसे मांगने लगे हैं, लोगों का भरोसा उठ गया है सामने वाले की ऐसी हालात से।

IAS ki kahani hindi motivational story (sabse shaktishali insaan)

मुसीबत में हाथ फैलाने की मेरी कोशिश ने मुझे बहुत शर्मिंदा कर दिया था। अनजाने लोग अनजाने शहर में शायद इस तरह की मदद का सिक्का अब खोटा हो गया है.. नहीं चलता। मैं बस मायूस सा बैठा अपने उस झपकी और लापरवाही को कोस रहा था। तभी देखा कुछ दो सौ के करीब सामान की पेटियां उतर रहीं थीं। छोटा स्टेशन होने के कारण कुली बहुत कम थें। मैंने जाकर उन्हें अपनी आपबीती सुनाई।

Also read: Itna sara Income tax dena padta hai
“अगर आपलोग मेरे काम के बदले कुछ पैसे दे दे तो मैं अपने घर जा सकूँगा” उन्होंने मुझे मेहनत करने का मौका दिया और घर जाने का भी। स्थिति चाहे कैसी भी हो एक सिक्का हमेशा चलता है.. मेहनत का..!

कहानी पसंद आयी तो हमारे फेसबुक और टवीटर पेज को लाइक और शेयर जरूर करें ?


? Facebook.com/cbrmixglobal

? Twitter.com/cbrmixglobal

Support/Donate Us (Bhim UPI ID) :[email protected]

Also read :   Jhagda ho gaya bhai behan ki kahani hindi me Cbrmix.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *