Maa ka pyar hindi story (maa ka pyar full hindi story)

Maa ka pyar hindi story
Share this Post

एक गाँव में 10, साल
का लड़का अपनी माँ के साथ
रहता था।

Maa ka pyar hindi story

माँ ने सोचा कल मेरा बेटा मेले में
जाएगा,
उसके पास
10 रुपए तो हो,
ये सोचकर माँ ने खेतो में काम
करके शाम तक पैसे ले
आई।

बेटा स्कूल से आकर
बोला खाना खाकर
जल्दी सो जाता हूँ, कल मेले में
जाना है।

सुबह माँ से बोला –
मैं नहाने
जाता हूँ,नाश्ता तैयार
रखना,
माँ ने रोटी बनाई,
दूध
अभी चूल्हे पर था..!

माँ ने देखा बरतन पकडने के लिए
कुछ नहीं है,
उसने गर्म पतीला हाथ से
उठा लिया,
माँ का हाथ जल
गया।

बेटे ने गर्दन झुकाकर दूध
रोटी खाई और मेले में
चला गया।

शाम को घर आया,तो माँ ने
पूछा – मेले में क्या देखा,10
रुपए
का कुछ खाया कि नहीं..!!

बेटा बोला –
माँ आँखें बंद कर,तेरे लिए कुछ
लाया हूँ।

माँ ने आँखें बंद की,तो बेटे ने उसके
हाथ में गर्म बरतन
उठाने
के
लिए लाई सांडसी रख दी।

अब
माँ तेरे हाथ
नहीं जलेंगे।

माँ की आँखों से आँसू बहने लगे।

दोस्तों,
माँ के चरणों मे स्वर्ग है,
कभी उसे दुखी मत करो..!

सब कुछ मिल जाता है,
पर माँ दुबारा नहीं मिलती।

मेरी माँ
मां से प्यार करते हो तो आगे
शेयर जरुर करना.

ALso read –> जानकी के बहु बेटे शहर में बस चुके थे लेकिन उसका गाँव छोड़ने का मन नहीं हुआ इसलिए अकेले ही रहती थी। वह रोजाना की तरह मंदिर जा कर आ रही थी—- Read more

If you like this story Please don’t forget to like our social media page –


Facebook.com/cbrmixglobal

Twitter.com/cbrmixglobal

 

Also read :   Ek Judge ka talaak (rula dene wali kahani hindi me)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *