Ganwar aurat kamati thi tees paintis hazar rupaye mahine hindi story

Ganwar aurat kamati thi tees paintis hazar rupaye mahine hindi story
Share this Post

कुछ पढ़ी लिखी रहती, तो कहीं नौकरी कर के कुछ तो घर चलाने मे हाथ बटाती,
अंधा हो गया था मै ही तेरी खूबसूरती देख कर और बिना सोचे समझे, पिताजी की पसंद पर हां कर बैठा था, तुझ अनपढ़ गंवार से शादी के लिए अकल मारी गयी थी मेरी।…
शादी के दो बरस बाद आये दिन की बात हो गयी थी, अब तो इन तानो की अपर्णा के लिए, हमेशा मुस्कुरा कर टाल देती थी वो इन तानो को।…

Ganwar aurat kamati thi tees paintis hazar rupaye mahine hindi story

Ganwar aurat kamati thi tees paintis hazar rupaye mahine hindi story

लेकिन आज कुछ ज्यादा ही तल्ख सूर मे था, पतिदेव जी का ताना, बर्दाश्त नही कर पायी…. सीधे दिल पर चुभा था नस्तर, जाग उठा था उसका भी घर गृहस्थी की जिम्मेदारीयो मे फसकर, सोया हुआ उसका स्वभिमान कुछ कर गुजरने को।
पतिदेव भुनभुनाते हुए आफिस को निकले, और खोल ली उसने अपनी संदुकची, थोड़ी थोड़ी बचत करके जो पैसे जमा करती थी दो बरस से।
गिने तो सात हजार रुपये निकले, मां ने लोगो के कपड़े सिलाई करके बड़ी ही मुश्किल से पाला था उसे ।… परिस्थितियां खराब होने के कारण, पांचवी से आगे नही पढ़ा पायी थी, लेकिन मां का हाथ बटाते बटाते वो खुद भी, सिलाई का हर हुनर बेहतर तरीके से जरुर सीख गयी थी।. ..
याद आ गयी आज उसे मां की सीख, जो अक्सर ही कहती थी…. पढ़ा लिखा भूखा मर सकता है मगर हुनरमंद कभी नही।….
तय कर लिया उसने भी मां से प्राप्त हुनर को अजमा कर कुछ कर दिखाने को।…
तुरंत बजार गयी सिलाई मशीन खरीदी, लेडीज टेलर्स का एक बोर्ड बनवाया और लगवा दिया घर के बाहर, और पुरे मुहल्ले मे घर घर जाकर खबर भी कर आयी…
धीरे धीरे कपड़े आने भी शुरू हुए, और उसके सिले हुए ब्लाउज़ और ड्रेस की फिटिंग और सफाई की तारीफे भी होने लगी।….
काम धीरे धीरे बढ़ने लगा जरुरत से ज्यादा, मदद के लिए कारीगर भी रख लिया उसने,… पहले एक और अब चार चार कारीगर थे उसके पास, फिर भी मुहमांगी उजरत पर भी एक महीने से पहले, किसी को सिलाई करके देने का वों वादा नही कर पाती थी…
आज पतिदेव की तंख्वाह बीस हजार थी,… और वो खुद सारे खर्चे काटकर… तीस से पैतीस हजार घर बैठे घर के सारे काम निपटाते हुए भी, कमा कर साबित कर रही थी। की अनपढ़ होकर भी, इंसान हुनरमंद हो तो सफलता हासिल की जा सकती हैं…

कहानी “Ganwar aurat kamati thi tees paintis hazar rupaye mahine hindi story” पसंद आयी तो हमारे फेसबुक और टवीटर पेज को लाइक और शेयर जरूर करें ?


? Facebook.com/cbrmixglobal

? Twitter.com/cbrmixglobal

 

Also read :   Har Kisi ko saath ki jarurat hoti hai full hindi kahani

Support/Donate Us (Bhim UPI ID) :cbrmix@ybl

Also read :   Jeevan ka Najariya Full hindi story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *