Asli sach full hindi story

blind boy
अपने दोस्तों से शेयर करें

एक 15 साल का लड़का अपने पिता के साथ ट्रेन में सफ़र कर रहा था. लड़का खिड़की के पास बैठा हुआ था और खिड़की के बाहर देखकर जोर-जोर से अपने पापा से कह रहा था की……

“पापा, वो देखिये पेड़ तेज़ी से पीछे जा रहे है!”

ये सुनकर उसके पिताजी मुस्कुराने लगे और पास में बैठा एक युगल (पति-पत्नी) उस 15 साल के लड़के द्वारा किये जा रहे बच्चे जैसे व्यवहार को गुस्से से देख ही रहे थे, की तभी अचानक वह लड़का फिर से चिल्लाया…

“पिताजी, देखिये बादल भी हमारे साथ ही जा रहे है!”

इस बार उस युगल से रहा नही गया उसने इसका विरोध करते हुए उस बुजुर्ग व्यक्ति (लड़के के पिता) से कहा की….

“तुम अपने बेटे को किसी अच्छे डॉक्टर को क्यू नहीं दिखाते?”

Maa ke naam full hindi story

तभी वह बुरुर्ग व्यक्ति (लड़के का पिता) मुस्कुराया और उसने कहा की….

“मैंने ऐसा ही किया, बल्कि अभी हम अस्पताल से ही आ रहे है, मेरा बेटा बचपन से ही अँधा था, और उसे आज ही उसकी आखे मिली, आज पहली बार मेरा बेटा इस दुनिया को देख पा रहा है.”

If you like Asli sach full hindi story Please don’t forget to like our social media page –


Facebook.com/cbrmixglobal

Twitter.com/cbrmixglobal

 

यह भी पढ़े :   Main tumhe ek khubsoort si afsara de raha hu prachin rochak kahani

 

More from Cbrmix.com

यह भी पढ़े :   Rachna machine hai kya full hindi story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *