Ab Tum mujhe katne aa gaye ho full hindi sad story

Ab Tum mujhe katne aa gaye ho full hindi sad story
Share this Post

एक जंगल था उसमें एक बहुत बड़ा पेड़ था और उसी के पास कांटे वाले झाड़ियां थी पेड़ हमेशा अपने ऊपर घमंड करता था कि देखो मैं कितना बड़ा हूं मैं, मेरे पास लोग आते हैं मेरे फल खाते हैं और मेरी नीचे बैठकर छाया लेते हैं|

Ab Tum mujhe katne aa gaye ho full hindi sad story

तुम्हारे पास तो कोई आता भी नहीं है ना ही तुम्हारे से कोई लेता है झाड़ी ने कहा कोई बात नहीं कुछ लोग पेड़ के पास आये  पेड़  बहुत खुश हो रहा था कि देखो यह मेरे पास बैठेंगे यह मेरे फल खाएंगे पर वो लोग तो पेड़ की जड़ को  आरी से काटने लग गए |

पेड़ ने कहा तुम मेरे ही फल खाते थे और मेरे ही छांव में घंटों बैठ बैठते थे और फिर तुम आज मुझे क्यों काट रहे हो उन आदमियों ने कहा कि हमें लकड़ी की जरूरत है इसीलिए हम तुम्हें काट रहे हैं यह सुनकर झाड़ी हंस पड़ी और बोली देखो तुम्हें अपने आप पर कितना घमंड था पर तुम थोड़ी ही देर में कट जाओगे मुझे देखो कोई मेरे पास नहीं आता लेकिन मैं हमेशा यहीं रहती हूं ना तो कोई मुझसे कुछ लेता है और ना ही देता है अपने आप को जितना बड़ा समझते थे आज तुम उतनी ही छोटे हो जाओगे और इस जंगल से चले जाओगे |

यह सुनकर पेड़ को अपनी गलती का एहसास हुआ और वह झड़ी से माफी मांगने लगा कोई छोटा बड़ा नहीं होता सब अपने अपने गुणों से छोटे बड़े होते हैं.

दोस्तों ये कहानी हम सभी ने बचपन से सुनी है | क्या एक 12-14 साल के लड़के में अचानक से इतना साहस और सूझबूझ आ गयी होगी . नहीं दोस्तों ये तो बचपन से उस लड़के को दूसरों की मदद करना. कठिनाई देखकर न घवरना इस तरह की सोच मिली होगी वरना अचानक आई किसी भी बिपति में हम वैसे ही React करते हैं जैसा हमने अभ्यास किया होता है.इसलिए हर समय अच्छा सोचे हमरी सोच ही हमारा जीवन बनाती है |

If you like this story Please don’t forget to like our social media page –


Facebook.com/cbrmixglobal

Twitter.com/cbrmixglobal

Support/Donate Us (Bhim UPI ID) :cbrmix@ybl

Also read :   Chudail ne bachai us ladki ki ijjat asli bhoot pret ki kahani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *